Sai-Baba

जीवन में Sai Baba के अनमोल विचार अवश्य होने चाहिए/Sai Baba’s precious thoughts must be inhish in life

Sai Baba की पूजा करने से लोगों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

आज Sai Baba के बारे में बात की जा रही है। कहा जाता है कि साईं बाबा की पूजा करने से लोगों की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। आज हम लेकर आए हैं Sai Baba के अनमोल विचार जिन्हें आप सभी को अपने जीवन में उतारना चाहिए।

जैसे व्यक्ति का चरित्र होता है, वैसे ही वह उसका मित्र बन जाता है

अगर आप अपने घर में प्यार से साथ रहते हैं, तो आपका घर स्वर्ग जैसा हो जाता है। जैसे व्यक्ति का चरित्र होता है, वैसे ही वह उसका मित्र बन जाता है। प्यार लोगों को करीब लाता है…नफरत दूर ले जाती है। अगर घर को ज्यादा समय तक टिकना है तो उसकी नींव पक्की होनी चाहिए। यही सिद्धांत मानव जीवन पर भी लागू होता है, नहीं तो वह भी नर्म धरातल में धंस जाएगा और भ्रम की दुनिया में बर्बाद हो जाएगा।

लोगों के प्रति अच्छा व्यवहार करना हमारा कर्तव्य है

लोगों के प्रति अच्छा व्यवहार करना हमारा कर्तव्य है, जो काफी है
स्वार्थी मत बनो। मेहनत कर अपनी रोजी-रोटी कमाएं। पैसे के पीछे मत भागो। जीवन के सभी परिणाम मनुष्य की सोच का परिणाम हैं, इसलिए हमारी सोच मायने रखती है। जीवन एक गीत है, इसे गुनगुनाएं। जीवन एक खेल है, इसे खेलें। जीवन एक चुनौती है, इसे पूरा करें। जीवन एक सपना है, इसे साकार करें। जीवन एक प्यार है, इसका आनंद लें।

एक दूसरे से प्यार करें और दूसरों को ऊंचाइयों तक पहुंचाने में मदद करें। माता-पिता की सेवा करना ईश्वर की सेवा के समान है।
एक बार बोले गए शब्द कभी वापस नहीं आते, इसलिए हमेशा सोच-समझकर ही बोलें।अच्छे और सच्चे दोस्त इंसान को हमेशा अच्छी सलाह देते हैं। वे उसे बुरे रास्ते पर चलने से रोकते हैं।
भगवान को खोजने की कोशिश करते रहो; यह आपके लिए अच्छा रहेगा।

अच्छे कर्म करना चाहते हो तो अच्छे कर्म करो

अच्छे कर्म करना चाहते हो तो अच्छे कर्म करो, मोह माया के जाल में मत पड़ो। और अच्छे मार्ग पर चलते रहो… धन्य हो जाओगे मिलना और बिछड़ना जिंदगी का रिवाज है, ये तो हम सब जानते हैं। फिर भी जब कोई इंसान किसी को अपने दिल में रखता है तो दिल रोता है जब वो उससे जुदा होता है।

हर कोई एक का मालिक है। विश्वास का अर्थ है निर्भरता, निडरता और बेचैनी गुरु के वचन कितने भी कठोर क्यों न हों? यह मनुष्य को बचाता है। दीया (दीपक) अपने अंत तक दूसरों को जलाता है और दूसरों के जीवन को रोशन करता है। वह अँधेरे में रास्ता दिखाता है और रात के अँधेरे में काम करनेवाले को चेतावनी देता है कि मैं उसे देखता हूँ। योगी नहीं दिया जाता; महान योगी।
धन ही सुख प्राप्ति का साधन है; लेकिन पैसा खुशी नहीं है।
दूसरों को कभी दुख मत दो, उन्हें खुशी दो।

Leave a Reply

Your email address will not be published.