इतिहास और संस्कृति

नामवर सिंह के प्रिय हिन्दी शिक्षक की दी हुई सीख और दानेदार लेखन/Lessons and granular writing given by Namvar Singh’s beloved Hindi teacher

प्रकाश डालिए आलोचक एवं सम्पादक Namvar Singh का जन्म 26 जुलाई 1926 को चन्दौली में हुआ था।19 फरवरी 2019 को नामवर सिंह का 92 साल की उम्र में दिल्ली में निधन हो गया। जानिए क्या बताया इंटरव्यू में नामवर जी ने इंटरव्यू में नामवर जी ने बताया कि आठवीं तक चन्दौली के कमालपुर में पढ़ने

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

जानिए सिक्किम की संस्कृति और वेशभूषा के बारे मे /Know about the culture and costumes of Sikkim

सिक्किम की वेशभूषा प्रमुख समुदायों की सामाजिक और सांस्कृतिक जीवन शैली को दर्शाती है जो लेप्चा, भूटिया और नेपाली हैं। लेप्चा, भूटिया और नेपाल के तीनों समुदाय अलग-अलग वेशभूषा पहनते हैं जो राज्य में पाई जाने वाली विविधता को और बढ़ाते हैं। जानिए सिक्किम की पुरुष वेशभूषा के बारे में लेप्चा पुरुषों की पारंपरिक वेशभूषा

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

राजा Janamejaya का नाग यज्ञ की वजह से आज भी अवन्तिकापुरी में नहीं काटते हैं सांप/ Even today snakes do not bite in Avantikapuri because of King Janamejaya’s snake sacrifice

उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ के अवन्तिकापुरी का ऐतिहासिक महत्व है उत्तरप्रदेश के आजमगढ़ के अवन्तिकापुरी का ऐतिहासिक महत्व है, जो हजारों साल पूर्व का है। ये एक बड़ा तीर्थ स्थल है, जहां सर्प विनाश के लिए त्रेता युग में राजा Janamejaya ने यज्ञ किया था। इस क्षेत्र में किसी को सर्प नहीं काटता है, यदि किसी

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

जानिए क्यों पूजा में और मंदिरों में घंटी बजाने का है महत्व /Know why ringing of bells is important in worship and in temples

मंदिर में घंटी बजाने की परंपरा काफी प्राचीन है. ऐसा माना जाता मेहै कि इससे ईश्वर जागते हैं और आपकी प्रार्थना सुनते हैं. पर क्या आपको पता है कि घंटी बजाने का मतलब सिर्फ भगवान से ही कनेक्शन नहीं है, बल्क‍ि इसके पीछे वैज्ञानिक पहलू और धार्मिक मान्यताएं भी हैं। आखिर घंटी क्यों बजाई जाती

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

Utpanna Ekadashi 2022 Date के बारे में जानिए कब और कैसे करें इसके लिए व्रत/Know about Utpanna Ekadashi 2022 Date, when and how to fast for it

Utpanna Ekadashi 2022 Date: उत्पन्ना एकादशी का व्रत 20 नवंबर 2022, रविवार को रखा जाएगा. एकादशी का व्रत सभी व्रतों में विशेष महत्व रखता है. मान्यता है कि इस व्रत के प्रभाव से वर्तमान के साथ पिछले जन्म के पाप भी मिट जाते हैं. साथ ही कई पीढ़ियों के पितरों को मोक्ष की प्राप्ति होती

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

आखिर Kartik Purnima को ही क्यों मनाई जाती है देव दीपावली/After all, why is Dev Deepawali celebrated only on Kartik Purnima?

दीपावली के ठीक 15 दिन बाद और Kartik Purnima के दिन देव दीपावली या देव दिवाली का पर्व मनाया जाता है. देव दिवाली के दिन काशी और गंगा घाटों पर विशेष उत्सवों के आयोजन किए जाते हैं और गंगा किनारे खूब दीप प्रज्जवलित किए जाते हैं. देव दिवाली मनाने को लेकर ऐसी मान्यता है कि

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

Dev Deepawali 2022: कब है देव दीपावली, जानें इस दिन दीपदान करने का महत्व और शुभ मुहूर्त/Dev Deepawali 2022: When is Dev Deepawali, know the importance and auspicious time of donating lamps on this day

प्रत्येक वर्ष कार्तिक माह की पूर्णिमा तिथि को देव दिवाली मनाई जाती है। हिंदू धर्म में दिवाली की तरह Dev Deepawali 2022 का भी महत्व है। इस त्योहार को भी दीपों का त्योहार कहा जाता है। देव दिवाली का ये पर्व दीपावली के ठीक 15 दिन मनाया जाता है। देव दिवाली मुख्य रूप से काशी

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

जब नमक के लिए अंग्रेजों ने पाकिस्‍तान से ओडिशा तक खड़ी कर दी थी 10 फुट ऊंची दीवार, जानें क्या है पूरी कहानी / When the British had erected a 10-foot high wall from Pakistan to Odisha for salt, know what is the full story

भारत और पाकिस्‍तान के बीच बंटवारे के 75 साल हो चुके हैं भारत और पाकिस्‍तान के बीच बंटवारे के 75 साल हो चुके हैं और इस एतिहासिक घटना से पहले दोनों देश अंग्रेजों के गुलाम रहे। बंटवारा तो हो गया लेकिन कई ऐसी चीजें हैं जो या तो सिर्फ पाकिस्‍तान में हैं या फिर भारत

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

Varanasi Airport Authority के संस्कृत भाषा में अनाउंसमेंट शुरू करने से यात्री दिख रहे हैं ख़ुश Passengers are happy with the introduction of announcement in Sanskrit language by Varanasi Airport Authority

संस्कृति से लोगों को रूबरू करने की पहल वाराणसी एयरपोर्ट (Varanasi Airport) की निदेशक अर्यमा सान्याल ने बताया कि काशी (Kashi) को धर्म और संस्कृति की राजधानी कहते हैं. ऐसे में यहां की संस्कृति और सभ्यता को लोग समझें और देव भाषा संस्कृत की पूरी दुनिया में नई पहचान बनें, इसके लिए हम लोगों ने

READ MORE
इतिहास और संस्कृति

Shukra Pradosh Vrat 2022 शुक्र प्रदोष व्रत आज, जानिए शुभ मुहूर्त, महत्व और पूजा विधि Shukra Pradosh Vrat 2022: Shukra Pradosh fast today, know auspicious time, importance and method of worship

प्रदोष व्रत (Shukra Pradosh Vrat) का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है प्रदोष व्रत (Shukra Pradosh Vrat) का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है और जो लोग भोलेनाथ का पूजन करते हैं वह प्रदोष व्रत नियमानुसार करते हैं. हिंदू पंचांग के अनुसार हर माह दो प्रदोष व्रत आते हैं और आज यानि आश्विन माह के

READ MORE